असम कर्ज माफ़ी योजना और helpline नंबर (online पंजीकरण )

By | September 15, 2020

किसान कर्ज माफी 2020 आसाम  सरकार| असम कर्ज माफ़ योजना helpline नंबर |असम
कर्ज माफ़ योजना ऑनलाइन form |असम किसान कर्ज माफ योजना |असम कर्ज मुक्त
योजना online रजिस्ट्रेशन |असम कर्ज माफ़ योजना sikayat नंबर |किसान कर्ज माफी
लिस्ट में अपना नाम कैसे देखें|किसान कर्ज माफी लिस्ट 2020 असम |2020 किसान कर्ज माफी KCC|

नस्कर दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल में किसानो को लेकर कर्ज माफ़ से समन्धित
योजना के बारे में बताएँगे और साथ helpline नंबर की भी जानकारी देंगे इस योजना में असम
राज्य के सभी किसान भाई को अब सरकार जितना भी कर्ज होगा उनको मुक्त करेगी इस असम
किसान कर्ज माफ योजना में राज्य के करीब 8 लाख किसानो को कर्ज से मुक्ति मिलेगी भारत में
राजस्थान ,हरियाणा ,mp ,उत्तरप्रदेश ,राज्यों ने भी अपने किसानो का कर्ज माफ़ कर दिया है
इन राज्यों के कर्ज माफ़ को देखते हुए असम सरकार के मुख्यमंत्री सर्वानन्द सोनोवाल ने अपने
राज्य के किसानो को कर्ज मुक्त करने की घोषणा की है दोस्तों हम आपको इस आर्टिकल में
योजना का लाभ किन को मिलेगा तथा कोनसे दस्तावेज चाहिय और  कितना कर्ज माफ़ होगा इस
तमाम बातो को आगे डिस्कस करेंगे तो बने रहे हमारे साथ अंत तक|

असम किसान कर्ज माफ योजना 2020

आज हमारे देश के किसान की कर्ज एक आम समस्या बन गई है जिनको देखते सरकार हर प्रकार से किस न किसी तरह की योजना देती है ताकि देश के किसान की आर्थिक स्थति में सुधार हो सके इसलिय असम सरकार ने किसान कर्ज माफ योजना भी अपने राज्य के गरीब परिवार जिनकी भूमि 2 एकड़ या इससे कम है उनको सरकार आर्थिक सहायता प्रदान करेगी इस प्रकार के राज्य में करीब 8 लाख किसान भाई है जिनको सरकार 500 करोड़ रुपया का बजट तेयार किया है इन सब किसानो के लिय जिससे अपने परिवार को चलने में कुछ आर्थिक मदद मिलेगी असम सरकार चाहती है की राज्य के किसान भाई सशक्त बने और अपनी खेती की उपज को बढाएं जिससे राज्य की भी अर्थीक स्थति में भी सुधार होगा मुख्यमंत्री ने राज्य के बाकि किसानो को भी जल्द ही इस योजना के लिय बजट पेश करेगी

read more

योजना का नामअसम कर्ज माफ़ी योजना
शुरू कब हुईदिसम्बर 2018
किसके द्वारामुख्यमंत्री सर्वानन्द सोनोवाल जी
उधेश्यराज्य के गरीब किसानो को कर्ज मुक्त करना
लाभार्थीराज्य के किसान
ऑफिसियल websitehttps://finance.assam.gov.in/

किसान कर्ज माफ scheme में कितना लाभ मिलेगा

राज्य रसकर ने किसानो के ऋण को लेकर बड़ी घोषणा की है इसमें राज्य के करीब 8 लाख किसान भाइयो को इस योजना के तहत लाभ दिया जाएगा लाभार्थी ने जो ऋण ले रखा है उनका 25 % कर्ज माफ़ किया जाएगा जिससे किसानो की आर्थिक स्थति में सुधार होगा राज्य सरकार ने 600 करोड़ रुपया को बजट इन किसानो को देने के लिय तेयार किया है असम किसान कर्ज माफ योजना

असम किसान कर्ज माफ योजना के पीछे उधेश्य क्या ?

अपने राज्य के किसानो की आर्थिक स्थति में सुधार करने के ली य इस कर्ज माफ़ योजना को शुरू
किया है जिससे किसानो का बोझ तोडा कम होगा जो किसान केवल 2 एकड़ भूमि से अपना
गुजारा करते है उनको टोटल paiso का 25 % पैसा माफ़ होगा सरकार चाहती है की किसान
खेती के प्रति सशक्त या आत्मनिर्भर बने जिससे राज्य की आर्थिक (अर्थव्यवस्था )को सुधार
मिले इसके लिय सरकार और भी किसानो को फायदेमंद योजना से जोड़ेगी जिससे जीवन जीने में
कोई भी कठिनाई नही होगी और वे अपने परिवार का पालन पोषण आसानी से कर सकेंगे

असम किसान कर्ज माफ योजना helpline नंबर 

Assam, Finance Department
3rd Floor, Chief Minister’s Block
Janata Bhawan
Dispur,Guwahati : 781006
Phone No.: 0361-2237054
E-mail: samirksinha@gov.in

असम किसान कर्ज माफ योजना के आवश्यक दस्तावेज :

  • जो इस कर्ज माफ योजना का लाभ लेना चाहता है वो असम राज्य का मूलनिवासी होना चाहिय
  • किसान भाई के पास आधार कार्ड
  • अपने खेत की जमा बंदी /खसरा नंबर
  • राशन कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक खाता
  • फोटो पासपोर्ट साइज़ आय प्रमाण पत्र

असम किसान कर्ज माफ़ योजना में आवेदन कैसे करे

अगर किसी किसान भाई को इस scheme के लिय पंजीकरण करवाना है तो हमारे द्वारा बताए गई निर्देशों को follow करे असम किसान कर्ज माफ योजना

सबसे पहले आपको इस असम कर्ज माफ़ी योजना की ऑफिसियल website पर जाना है उसके

अपना जिला , तहशील चुनाव करना है

इसके बाद एक और नया पेज ओपन होगा उसमे आपको अपनी एड्रेस details भरनी है दस्तावेजो
का मिलन करके ताकि किसी प्रकार की गलती ना हो

और निचे save या ok button पर क्लिक कर देना क्लिक करने के बाद आपका फॉर्म
compelite हो जाएगा और अब आपको बैंक द्वारा एक message दिया जाएगा की आपके
खाते में सरकार कर्ज माफ़ के पैसे cradit कर दिय है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *